You are currently viewing सनातन धर्म के उत्सवों पर हिंसा करने वाले बख्शे न जाएं : गुरदीप सैनी * निश्चित समय अंतराल पर हो मस्जिदों की तलाशी

सनातन धर्म के उत्सवों पर हिंसा करने वाले बख्शे न जाएं : गुरदीप सैनी * निश्चित समय अंतराल पर हो मस्जिदों की तलाशी

फगवाड़ा 17 अप्रैल
देश की राजधानी दिल्ली के जहांगीर पुरी क्षेत्र में श्री हनुमान जयंती की शोभायात्रा पर एक मस्जिद से हुए पथराव की कड़ी निंदा करते हुए शिव सेना बाल ठाकरे पंजाब के प्रदेश महासचिव गुरदीप सैनी ने सभी आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है। आज यहां वार्तालाप में गुरदीप सैनी के अलावा युवा सेना पंजाब के प्रदेश उपाध्यक्ष रुपेश धीर एवं शिव सेना के सिटी प्रधान रमन शर्मा ने कहा कि श्री रामनवमीं पर राजस्थान, मध्यप्रदेश व गुजरात सहित देश के कई राज्यों में समुदाय विशेष द्वारा हिंसा की गई और अब देश की राजधानी दिल्ली में हिंसा का तांडव भारत सरकार को चुनौती है जिससे सख्ती से निपटना जाना चाहिए। गुरदीप सैनी ने कहा कि जिस श्रृंखलाबद्ध ढंग से बार-बार हिन्दु समुदाय के उत्सवों पर हिंसा हो रही है वह एक सोची समझी साजिश का हिस्सा है। इसलिए शिव सेना मांग करती है कि जिन समुदाय विशेष के लोगों ने दिल्ली में हिंसा की है उनकी शिनाख्त की जाए कि वे भारतीय हैं भी या बांगलादेश अथवा मयांमार (बर्मा) के घुसपैठिये हैं। रुपेश धीर व रमन शर्मा ने दंगाईयों को फ्री राशन जैसी सरकारी सुविधाएँ बंद करने और किसी भी तरह की सबसिडी अथवा अन्य सुविधा न देने की मांग की। शिव सेना नेताओं ने कहा कि जो लोग भी सनातन धर्म के उत्सवों को निशाना बना कर देश का माहौल बिगाडऩे की कोशिश कर रहे हैं उनके लिए ऐसी सजा सुनिश्चत हो कि दोबारा दंगा फसाद करने की कल्पना से भी परहेज करें। उन्होंने जहां दिल्ली के हिन्दू समुदाय से शांति बनाये रखने की अपील की वहीं नरेन्द्र मोदी सरकार से भी मांग की है कि दिल्ली की संबंधित मस्जिद के इमाम की गिरफ्तार कर मस्जिद को ताला लगाया जाए। साथ ही निश्चित समय अंतराल पर देश भर की मस्जिदों की तलाशी को यकीनी बनाया जाए ताकि वहां पत्थरों, तलवारों और पैट्रोल बमों के जखीरे जमा न हों और भविष्य में दोबारा इस तरह के उत्पात की संभावना न बने।