You are currently viewing किसान आंदाेलन खत्मः  फगवाड़ा पहुंचे किसानों का हुआ गर्मजोशी के साथ स्वागत विधायक धालीवाल ने किसान संगठनों के नेताओं काे फूल मालाएं पहनाई और मुंह मीठा करवाते हुए आंदोलन में मिली जीत की बधाई दी

किसान आंदाेलन खत्मः फगवाड़ा पहुंचे किसानों का हुआ गर्मजोशी के साथ स्वागत विधायक धालीवाल ने किसान संगठनों के नेताओं काे फूल मालाएं पहनाई और मुंह मीठा करवाते हुए आंदोलन में मिली जीत की बधाई दी

तीन कृषि कानून वापस करवाने के लिए विभिन्न किसान मजदूर संगठनों द्वारा दिल्ली में एक वर्ष के करीब लगाए गए मोर्चे में लगातार आंदाेलन कर रहे किसानों का फगवाड़ा पहुंचने पर लाेगाें ने भव्य स्वागत किया। केंद्र सरकार की ओर से तीनों कृषि कानून वापस लेने के बाद वहां से आंदोलन को समाप्त करने की घोषणा की गई थी। जिसके बाद पंजाब के किसान अब गावों को लौटना शुरू हो गए हैं। रविवार को किसान फतेह मार्च का नेशनल हाईवे पर स्थित गांव मौली के पास पहुंचने पर विधायक बलविंदर सिंह धालहीवाल (रिटायर्ड आइएएस) ने किसान आंदोलन में शामिल किसानों का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया। विधायक धालीवाल ने फतेह मार्च में शामिल किसान नेताओं पर पुष्प वर्षा करते हुए उन्हें फूलों के हार पहनाएं। वहीं उन्होंने सभी किसानों को लड्डू खिलाकर मुंह मीठा करवाते हुए आंदोलन में मिली जीत की बधाई दी। विधायक धालीवाल ने आंदोलन को सफल बनाने में अपना सहयोग देने वाले सभी किसान नेताओं किसानों आदि लोगों को सिरोपा पहनाकर सम्मानित किया गया। वहीं फगवाड़ा के बस स्टैंड के पास स्थित गोल्ड जिम के पास समूह कांग्रेस ने विधायक धालीवाल के नेतृत्व में दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन में शामिल हुए भारती किसान युनियन दोआबा के किसानों जिनमें दोआबा प्रधान मनजीत सिंह राय, कृपाल सिंह मूसापुर, सतनाम सिंह साहनी व कुलविंदर सिंह काला का नोटों के हार पहना कर स्वागत किया। फगवाड़ा की सीमा में दाखिल होते हुए किसानों का पुष्प वर्षा के साथ स्वागत किया और उन्हें आंदोलन में मिली जीत की बधाई दी। इस मौके पर चेयरमैन, ब्लाक प्रधान, पूर्व पार्षद, सरपंच, पंच, ब्लाक समिति के सदस्य, जिला परिषद के सदस्य, महिला विंग, यूथ विंग के वर्कर व नेता उपस्थित थे।


——————————————————-
अगर संगठन मजबूत होता है तो कोई भी ताकत उसे नहीं हरा सकती – धालीवाल
विधायक बलविंदर सिंह धालीवाल ने किसान नेताओं का दिल्ली के बार्डर से फगवाड़ा पहुंचने पर स्वागत करते हुए कहा कि दिल्ली की सीमाओं पर अपने हक्क के लिए आंदोलन कर रहे किसानों ने यह साबित कर दिया है कि अगर संगठन मजबूत होता है तो कोई भी ताकत उसे नहीं हरा सकती। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को सफल बनाने में सभी किसान मोर्चा व किसानों तथा हर वर्ग के लोगों के सहयोग की जीत है। उन्हाेंने कहा कि किसान को मिली जीत देश के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में लिखी जाएगी और आने वाली पीढियों के लिए प्रेरणा देगी। विधायक धालीवाल ने कहा कि किसान आंदोलन की ऐतिहासिक सफलता लेकर एक साल बाद हमारे किसान भाई अपने घर, अपने गांव, अपने खेतों में लौटेंगे। विधायक ने कहा कि देश के किसानों ने पूरे देश को सिखा दिया कि सच्चाई और ईमानदारी से शुरू की गई हक की लड़ाई अपने मुकाम तक जरूर पहुंचती है। विधायक धालीवाल ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार की ओर से पास किए काले कृषि कानूनों के खिलाफ कांग्रेस पार्टी पहले दिन से किसानों के साथ मिलकर लड़ाई रही थी। विधायक धालीवाल ने कहा कि पंजाब के किसानों सहित देश के बाकी प्रदेशों के किसानों ने केंद्र सरकार को यह दिखा दिया है कि वह कोई भी कानून जबरन जनता पर थोप नहीं सकती है।