Latest

जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद कैप्टन अमरेन्द्र ने पद पर बने रहने का नैतिक अधिकार खोया : परमजीत पम्मा चाचोकी * हाईकोर्ट के सिटिंग जज करें मामले की निष्पक्ष जांच

फगवाड़ा 2 अगस्त
(   शरणजीत सिंह सोनी      )
प्रदेश के माझा क्षेत्र के अन्तर्गत तीन जिलों में विषैली शराब पीने से करीब 90 लोगों की हुई मौत पर कड़ी टिप्पणी करते हुए भाजपा मंडल फगवाड़ा के प्रधान परमजीत सिंह पम्मा चाचोकी ने इस दर्दनाक घटना के लिये सीधे तौर पर पंजाब की कैप्टन अमरेन्द्र सिंह सरकार को जिम्मेवार ठहराया है। उन्होंने जहां मृतकों के परिवारों से गहरी संवेदन प्रकट की वहीं कहा कि हाथ में गुटका साहिब उठा कर एक महीने में नशों का खात्मा करने की शपथ लेने वाले मुख्यमंत्री के लिये शर्म की बात है कि सत्ता संभालने के ढाई साल बाद भी लोग नशे से मर रहे हैं। ऐसे मुख्यमंत्री को पद पर बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है। यदि कैप्टन अमरेन्द्र सिंह के मन में मुख्यमंत्री पद की गरिमा को लेकर जरा भी सम्मान है तो उन्हें तुरंत त्यागपत्र देना चाहिए। पम्मा ने कहा कि इस घटना ने सत्ता पक्ष, अफसरशाही, पुलिस तथा शराब माफिया की मिलीभगत का भंडाफोड़ करके रख दिया है। जिन परिवारों ने अपने सदस्यों को खोया है उन्हें इंसाफ मिलना चाहिए लेकिन यह सरकार उन लोगों को न्याय नहीं दे सकती। उन्होंने जहां संबंधित थाना क्षेत्रों के स्टेशन हैड आफिसरों (एस.एच.ओ.) को बर्खास्त करने की मांग की वहीं कहा कि इस सारे मामले की पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के सिटिंग जज से निष्पक्ष जांच करवाई जाए ताकि शराब के नाम पर जहर बेचने तथा शराफ माफिया को आश्रय देने वाली ताकतों के चेहरे से पर्दा उठाया जा सके। इस अवसर पर उनके साथ मंडल उप प्रधान बंटू वालिया, यशपाल भुंडी, कैशियर पवन कुमार बसंत नगर एवं सचिव चरणजीत वालिया आदि उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!